भारत का सबसे बड़ा पुल कौन सा है?

  • 0

भारत का सबसे बड़ा पुल कौन सा है?

Bharat ka sabse bada and Lamba Pul (Bridge)-

भारत में पानी के ऊपर कई सारे ऐसे पुल हैं जोकि बहुत बड़े, ऊंचे और लम्बे हैं| दुनिया के सबसे बड़े पुलों की सूची में भारत के कई पुलों का नाम शामिल होता है, इसके आलावा भारत में रेलवे पुलों की भी अद्भुत सूची है। भारत के कुछ महान रेल और सड़क पुल में महात्मा गांधी सेतु, वम्बनाड रेल ब्रिज, बांद्रा वरली सागर लिंक, और गंगा रेल रोड ब्रिज का नाम शामिल है|

ढोला-सादिया पुल (Dhola Sadiya Road Bridge) भारत में बने सभी पुलों में सबसे लंबा पुल है| इसकी लम्बाई लगभग 9.15 किमी और चौड़ाई 12.9 मीटर है| यह ब्रिज मुंबई में बांद्रा-वरली सीलिंक से भी ज्यादा लंबा है| यह ब्रिज ब्रह्मपुत्र नदी पर बना हुआ है और यह पुल वर्तमान समय इंडिया का सबसे लम्बा ब्रिज है| यह भारत के राज्य असम और अरुणाचल प्रदेश को जोड़ता है| इस पुल का उदघाटन शुक्रवार 26/05/2017 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था| यह पुल (Bridge) 60 टन वजनी युद्ध के टैंक का वजन भी उठा सकता है| इस पुल पर आवागमन शुरू होने बाद अरूणाचल प्रदेश और असम के बीच की दूरी लगभग 165 किलोमीटर और 5 घंटे कम हो गयी है| ढोला-सादिया पुल का निर्माण कार्य साल 2011 में प्रारम्भ हुआ था और इस परियोजना की कुल लागत लगभग 950 करोड़ रूपये थी| इस ब्रिज का डिजाइन इस तरह से तैयार किया गया है कि पुल सेना के टैंकों का भार सहन कर सके| महान संगीत निर्देशक, कवि और गीतकार डॉ. भूपेन हजारिका को श्रद्धांजलि अर्पित करने के रूप में ढोला-सादिया पुल का नाम भूपेन हजारिका सेतु (Bhupen Hazarika Bridge) रखा गया है|

bharat india ka sabse bada lamba pul bridge ka naam kya hai

More Info about Bharat ka sabse bada Pul-

यह पुल असम की राजधानी दिसपुर से 540 किलोमीटर दूर तथा अरुणाचल प्रदेश की राजधानी इटानगर से 300 किमी दूर स्थित है। चीनी सीमा से इस पुल की दूरी लगभग 100 किमी है| इस पुल को निर्मित करने में लगभग 182 पिलर (खम्भे) बनाये गए हैं और यह पुल भूकंपरोधी है| क्यूंकिअरुणाचल प्रदेश में कोई भी नागरिक हवाई अड्डा नहीं है अतः हम यह भी कह सकते हैं की इस पुल से राज्य के लोगों को तिनसुकिया में सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन और डिब्रूगढ़ में हवाई अड्डे तक आसानी से पहुंचने में मदद मिलेगी।


Leave a Reply