दुनिया का सबसे बड़ा धर्म

  • 0

दुनिया का सबसे बड़ा धर्म

दोस्तों क्या आप जानते हैं की दुनिया में कितने धर्म हैं? इस प्रश्न का उत्तर शायद आपको हैरान कर दे और वह उत्तर यह है की दुनिया में 4200 से भी ज्यादा धर्म हैं|

अब आपके सामने एक महत्वपूर्ण प्रश्न आता है कि दुनिया का सबसे बड़ा धर्म कौन है? दोस्तों विश्व के देशों में बहुत सारे धर्म के लोग रहते हैं और लगभग विश्व की 75 प्रतिशत जनसंख्या सिर्फ पांच धर्मों पर केंद्रित है, वह धर्म हैं- बौद्ध धर्म, ईसाई धर्म, हिंदू धर्म, इस्लाम और यहूदी धर्म।

वर्तमान समय में दुनिया का सबसे बड़ा धर्म ईसाई धर्म है और पूरे विश्व में ईसाई धर्म को मानने वाले लोगों कि संख्या लगभग 220 करोड़ है| अर्थात वर्ल्ड की 31.50% जनसँख्या ईसाई है| ईसाई धर्म लगभग दो हजार साल पहले शुरू हुआ था और यह धर्म ईसा मसीह के जीवन और उनकी शिक्षाओं में विश्वास रखता है। यह धर्म यहूदी धर्म से विकसित हुआ था और धीरे धीरे ईसाई धर्म दुनिया का सबसे लोकप्रिय धर्म बन गया| इस धर्म के अनुयायी पूरे विश्व में पाए जाते हैं|

Duniya vishwa world ka sabse bada dharm

दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा धर्म मुस्लिम है, इस धर्म को मानने वालों की संख्या लगभग 160 करोड़ है जोकि पूरे विश्व की जनसँख्या की 22.32% है| प्यू रिसर्च सेंटर के एक अध्ययन के मुताबिक इस्लाम धर्म किसी भी अन्य धर्म की तुलना में तेजी से बढ़ रहा है और इस रिसर्च के अनुसार सन 2050 तक इस्लाम धर्म विश्व का सबसे ज्यादा जनसँख्या वाला धर्म होगा| इस्लाम धर्म सातवीं शताब्दी में मक्का से शुरू हुआ था और इस धर्म के जनक पैगंबर मुहम्मद थे और इस धर्मं के अनुयायियों का मानना ​​है कि मुहम्मद पैगम्बर परमेश्वर के अंतिम नबी थे| मुस्लिम धर्म के दो प्रमुख गुट हैं- पहला सुन्नी और दूसरा शिया| सुन्नी गुट सभी मुस्लिमों का 80% है तथा शिया सभी मुस्लिमों का 15% है|

जनसँख्या के हिसाब से दुनिया का तीसरा बड़ा धर्म हिन्दू धर्म है, इस धर्म को मानने वाले लोगों की संख्या लगभग 100 करोड़ है जोकि पूरे विश्व की जनसँख्या की लगभग 14% है| हिन्दू धर्म के अनुयायी प्रमुख रूप से भारत, नेपाल, इंडोनेशिया और मॉरीसस में रहते हैं| भारत के धर्म में लगभग 80% आबादी हिन्दू धर्म की है| हिन्दू धर्म के उदय के बारे में कोई ठोस प्रमाण नहीं है परन्तु ऐसा माना जाता है की इस धर्म की उत्पत्ति लगभग 4,000 वर्ष पहले हुई थी| यह धर्म विश्व के सबसे प्राचीन धर्मों में से एक है| हाल के वर्षों में हिंदू धर्म की कई प्रथाएं पश्चिम के देशों में तेजी से लोकप्रिय हुई हैं| इसके उदाहरणों में योग की भागीदारी शामिल है।
पूरी दुनिया में सिख धर्मं को मानने वाले लोगों की संख्या लगभग 3 करोड़ है जोकि पूरी विश्व की आबादी का 0.32% है| इसके अतिरिक्त जैन धर्म के अनुयायियों की संख्या लगभग 40 लाख है|

दुनिया का सबसे प्राचीन धर्म कौन सा है?

हिंदू धर्म दुनिया का सबसे पुराना धर्म है, ईसाई धर्म और इस्लाम के बाद हिंदू धर्म दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा धर्म है| हिन्दू धर्म भारत का प्रमुख धर्म है| ऐसा अनुमान है कि हिंदू धर्म लगभग 4000 वर्ष पुराना धर्म परन्तु यह सिर्फ एक अनुमान और हिंदू धर्म का आरंभ कब हुआ था इस सटीक अवधि का पता लगाना बहुत कठिन है।

duniya ka sabse purana aur bada dharm kaun sa hai

हिंदू धर्म को “सनातन धर्म” या “अनन्त धर्म” भी कहा जाता है| हिंदू धर्म के लोग दुनिया के सबसे प्राचीन ग्रंथ चार वेदों में विश्वास करते हैं और उनमे लिखी हुई बातों को अपने जीवन में पालन करते हैं| हिंदू धर्म विभिन्न देवताओं और देवियों को मानने वाला एक धर्म है| विश्व के सबसे पुराने धर्म “हिंदू धर्म” के अनुसार तीन देवता (ब्रह्मा, विष्णु महेश) पूरी दुनिया पर शासन करते हैं|

Share this with your friends--

Leave a Reply