Albert Einstein Biography in Hindi अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

  • 0

Albert Einstein Biography in Hindi अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

Albert Einstein in Hindi

जर्मनी में जन्मे, अल्बर्ट आइंस्टीन बीसवीं शताब्दी के सबसे प्रसिद्ध वैज्ञानिकों में से एक हैं। सापेक्षता पर उनके सिद्धांतों ने भौतिकी की एक नई शाखा के लिए रूपरेखा तैयार की, और आइंस्टीन का E = mc2 दुनिया में सबसे प्रसिद्ध सूत्रों में से एक है। 1921 में, उन्हें सैद्धांतिक भौतिकी और क्वांटम सिद्धांत के विकास में उनके योगदान के लिए भौतिकी में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

Albert Einstein Biography in Hindi-

अल्बर्ट आइंस्टीन का जन्म जर्मनी में 14 मार्च, 1879 को हुआ था। उनके जन्म के कुछ समय बाद ही उनका परिवार म्युनिख चला गया| उन्होंने ल्यूपॉल्ड जिमनैजियम में स्कूली शिक्षा शुरू की। बाद में, वे इटली चले गए और अल्बर्ट ने स्विट्जरलैंड के एरौ में अपनी शिक्षा जारी रखी और 1896 में उन्होंने ज्यूरिख में स्विस फेडरल पॉलिटेक्निक स्कूल में प्रवेश किया। 1901 में, जिस वर्ष उन्होंने अपना डिप्लोमा प्राप्त किया, उन्होंने स्विस नागरिकता हासिल कर ली और जैसा कि उन्हें एक शिक्षण पद नहीं मिल पा रहा था, उन्होंने स्विस पेटेंट कार्यालय में तकनीकी सहायक के रूप में एक पद स्वीकार किया। 1905 में उन्होंने डॉक्टर की उपाधि प्राप्त की।

Albert Einstein Biography in Hindi

Albert Einstein’s Family

अल्बर्ट आइंस्टीन एक यहूदी परिवार में बड़े हुए। उनके पिता का नाम हरमन आइंस्टीन था और वह एक सेल्समैन और इंजीनियर थे| आइंस्टाइन की मां का नाम पॉलिन आइंस्टीन था, उनकी एक बहन थी जिसका नाम माजा था, जो उनके दो साल बाद पैदा हुई थी।

Albert Einstein: Wives and Children

अल्बर्ट आइंस्टीन ने जनवरी, 1903 में मिलिना मैरिक से शादी की। जब वह स्कूल में थे तब उनकी मुलाकात मेरिट से हुई थी| आइंस्टाइन मैरिक के करीब बढ़ते रहे लेकिन उनके माता-पिता इस रिश्ते के खिलाफ थे|आइंस्टीन के पिता का निधन 1902 में हुआ और उसके बाद इस जोड़े ने शादी कर ली।
इस दंपत्ति को दो पुत्र हुए- हैंस अल्बर्ट आइंस्टीन और एडुआर्ड आइंस्टीन| इसके अतिरिक्त इन की एक पुत्री थी जिसका नाम लिसेरल आइंस्टीन था|
आइंस्टीन की शादी बहुत ज्यादा खुशहाल नहीं रही और 1919 में उनका उनकी पत्नी मेरिट से तलाक हो गया| जिस वर्ष में उनका तलाक हुआ उसी वर्ष उन्होंने अपनी दूसरी शादी एल्सा आइंस्टीन से शादी की थी|

भौतिकी का नोबेल पुरस्कार

1921 में, आइंस्टीन ने फोटोइलेक्ट्रिक प्रभाव के अपने स्पष्टीकरण के लिए भौतिकी का नोबेल पुरस्कार जीता, क्योंकि सापेक्षता पर उनके विचारों को अभी भी संदिग्ध माना जाता था। नौकरशाही शासन के कारण अगले वर्ष तक उन्हें वास्तव में पुरस्कार नहीं दिया गया था।

Einstein’s Brain

आइंस्टीन का दिमाग
अल्बर्ट आइंस्टीन की शव परीक्षा के दौरान, थॉमस स्टोल्ट्ज हार्वे ने उनके मस्तिष्क को उनके शरीर से निकाल लिया| और ऐसा कहा जाता है कि उनके परिवार की अनुमति इस कार्य के लिए नहीं थी| उन्होंने आइंस्टाइन के दिमाग को परीक्षण के लिए निकाला था| कुछ लोगों का मानना है कि आइंस्टीन ने मस्तिष्क के अध्ययन में भी कुछ कार्य किए थे और उन्हें यह साथी कि उनकी मृत्यु के बाद शोधकर्ता उनके मस्तिष्क का अध्ययन करेंगे आइंस्टीन का मस्तिष्क अब प्रिंसटन यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर में स्थित है, उनकी मृत्यु के पश्चात बिना उनके मस्तिष्क के ही उनका अंतिम संस्कार किया गया और उनकी राख को एक अज्ञात स्थान पर बिखेर दिया गया।
कुछ वैज्ञानिकों ने उनके मस्तिष्क पर शोध किए और उनका मानना है कि आइंस्टीन का दिमाग सामान्य बुद्धि वाले लोगों की तुलना में 15% व्यापक था|

Albert Einstein’s Death

अल्बर्ट आइंस्टीन का 18 अप्रैल, 1955 को प्रिंसटन के यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर में 76 वर्ष की आयु में निधन हो गया। मृत्यु से पहले जब वह बीमार हुए तो उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उन्होंने सर्जरी से इनकार कर दिया| उन्होंने कहा कि उन्होंने अपना जीवन जी लिया है और मैं अपने भाग्य को स्वीकार करता हूं| उन्होंने कहा, “जीवन को कृत्रिम रूप से लम्बा करना बेस्वाद है। मैंने अपना हिस्सा पूरा कर लिया है| क्या मेरा अंतिम समय है और मैं इसे रुचि पूर्वक जीना चाहता हूं|

Share this with your friends--

Leave a Reply